क्या भारत में गर्भसमापन कानूनी है?

हाँ।

और हां, यह कई विकसित देशों के विपरीत है जहां गर्भसमापन एक विवादास्पद विषय है जिसमें अक्सर राजनीतिक विचारधाराएं शामिल होती हैं। गर्भावस्था की चिकित्सय समाप्ति अधिनियम (मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी एम0टी0पी0) अधिनियम 1971 गर्भधारण के 20 सप्ताह तक गर्भावस्था की (एम0टी0पी0) की चिकित्सय समाप्ति की अनुमति देता है। यहाँ आपको क्या पता होना चाहिएः

गर्भावस्था के 12 सप्ताह के भीतर गर्भावस्था की चिकित्सय समाप्ति एक डॉक्टर की मंजूरी से की जा सकती है।

गर्भावस्था के 12 से 20 सप्ताह के बीच गर्भावस्था की चिकित्सय समाप्ति दो डॉक्टरों की सहमति से की जा सकती है।

एक महिला गर्भसमापन सेवा प्राप्त कर सकती है यदि-
  • गर्भावस्था के कारण यदि महिला का स्वास्थ्य (शारीरिक और मानसिक) खतरे में है।
  • यदि भ्रूण में असामान्यताएं हैं जो बाद में विकृति और जोखिम पैदा कर सकती हैं।
  • गर्भावस्था बलात्कार का परिणाम है।
  • गर्भधारण अनचाहा है और गर्भनिरोधक की विफलता का परिणाम है (गर्भनिरोधक के एक या अधिक तरीकों का उपयोग किए जाने पर भी गर्भावस्था हुई)। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह खंड केवल विवाहित महिलाओं पर लागू होता है।
  • गर्भसमापन एक पंजीकृत चिकित्सिय अभ्यासकर्मी (आर0एम0पी0) द्वारा किया जाना चाहिए, जिसकी चिकित्सिय सेवाएं अधिनियम के तहत अनुमोदित हो, एक ऐसे स्थान पर जो अधिनियम के तहत अनुमोदित हो। कोई भी चिकित्सिय अभ्यासकर्मी गर्भसमापन नहीं कर सकता है।
अगर मैं 18 साल से कम हूँ तो क्या मैं गर्भसमापन करवा सकती हूँ?

हां, कम उम्र की लड़की गर्भसमापन करवा सकती है। जब तक कि कानून की शर्तें पूरी हो जाती हैं। इस तरह के परिदृश्य मेंहालांकि, लड़की के अभिभावक की सहमति अनिवार्यहै। एम0टी0पी0 अधिनियम अभिभावक को ‘‘एक नाबालिग या एक पागल व्यक्ति की देखभाल करने वाला व्यक्ति‘‘ के रूप मेंपरिभाषित करता है।

क्या एक अविवाहित महिला गर्भसमापन करवा सकती है?

भारत मेंगर्भसमापन, जबकि कानूनी, लेकिन महिला और भू्रण के स्वास्थ्य की चिंता से प्रेरित हैं। उदाहरण के लिए, गर्भनिरोधक की विफलता, विशेष रूप से विवाहित महिलाओं के लिए उल्लेखित एक षर्तहै। एक अविवाहित महिला, विवाहित की तरह, गर्भसमापन की सेवाएं स्वास्थ्य कारणों से प्राप्त कर सकती है और साथ ही अगर गर्भावस्था यौन उत्पीड़न के परिणामस्वरूप् है और महिला गर्भावस्था को आगे नहीं बढ़ाना चाहती है। हालांकि, वह महिला गर्भसमापन की सेवा की उम्मीद नहीं कर सकती है, अगर संभोग के दौरान कंडोम फट गया। क्या इसका मतलब यह है कि अविवाहित महिलाओं को भारत में गर्भसमापन की सेवायें नहीं मिलती है? शुक्र है कि ऐसा नहीं है।

महिला के लिए स्वास्थ्य संबंधी जोखिमों का नियम इस प्रकार हैः यदि गर्भावस्था की निरंतरता गर्भवती महिला के जीवन के लिये खतरा है या गंभीर चोट शारीरिक या मानसिक स्वास्थ्य के लिए जोखिम शामिल करेगी। इस प्रकार, यदि डॉक्टर अनचाही गर्भावस्था के मामले को देखता है, जिसमें गर्भवती महिला के मानसिक स्वास्थ्य को गंभीर चोट पहुंचे, तो वह गर्भसमापन को मंजूरी दे देगी/देगा।

क्या मुझे गर्भ समाप्त करवाने के लिए अपने पति की सहमति की आवश्यकता है?

नहीं. यदि आप 18 या अधिक वर्ष है, तो आपके किसी की भी सहमति की आवश्यकता नहीं है।

क्या 20 सप्ताह की सीमा के बाद गर्भसमापन की अनुमति नहीं है?

यह कानून के अनुसार नहीं है। हालांकि, यदि आवश्यक हो, तो आप अदालतों से संपर्क कर सकते हैं। इस तरह के अनुरोध के ठोस आधार होने चाहिए। पिछले साल, सर्वोच्च न्यायालय ने 20 सप्ताह की अवधि के बाद गर्भसमापन की अनुमति दी क्योंकि महिला को स्वास्थ्य जोखिम या भ्रूण के लिए गंभीर विकृति थी। सर्वोच्च न्यायालय ने अन्य अनुरोधों को भी अस्वीकार कर दिया था, वहां से महिला और भ्रूण के जीवन के लिए कोई जोखिम नहीं मिला।

गर्भसमापन के विभिन्न प्रकार क्या हैं?

दवाओं के द्वारा

आमतौर पर 7 सप्ताह के भीतरः एक एम0टी0पी0 किट का उपयोग किया जाता है जिसमें मौखिक रूप से लेने के लिए एक टैबलेट और योनि  द्वार में रखने के लिए चार टैबलेट होते हैं।

एक चिकित्सकीय गर्भसमापन दो हार्मोनल दवाओं के संयोजन का उपयोग करता है- एक एंटी-प्रोजेस्टेरोन और प्रोस्टाग्लैंडीन, जिसका उपयोग विभिन्न मार्गों के माध्यम से मुंह के माध्यम से, इंजेक्शन द्वारा इंट्रामस्क्युलर/नसों के द्वारा या योनि मार्ग से किया जा सकता है।

षल्य चिकित्सा/सर्जिकल माध्यम से

आमतौर पर 12 सप्ताह के भीतरःगर्भावस्था को सक्शन क्योरटेज नामक एक विधि का उपयोग करके समाप्त किया जाता है, जिसमें योनि में एक छोटी ट्यूब का डालना शामिल होता है जो एक सक्शन मशीन से जुड़ा होता है। इस विधि में गर्भावस्था को सांखकर निकाला जाता है।

आमतौर पर 12 सप्ताह और 20 सप्ताह के बीचः इस समय प्रयोग की जाने वाली विधि को फैलाव और निकासी कहा जाता है (डी एंड ई)। इसमें गर्भाशय को धीरे से खोलने के लिए गर्भाशय में गर्भाशय फैलाने वाली नलिका को डाला जाता है। एक बार जब यह गर्भाशय फैल जाता है, तो सक्शन ट्यूब और अन्य सर्जिकल उपकरणों का उपयोग करके गर्भावस्था को समाप्त कर दिया जाता है।

गर्भपात के बाद मैं क्या उम्मीद कर सकती हूं?

दर्द एक ऐसी चीज है जिसे हर कोई अलग तरह से अनुभव करता है। गर्भसमापन के तत्काल बाद खून बहता है। आपको कुछ दिनों के लिए ऐंठन हो सकती हैं। आपका डॉक्टर आपको कुछ राहत पाने के लिए दवाओं को लिखेगा।

योनि से किसी भी दुर्गंधयुक्त स्त्राव या बुखार की अनदेखी न करें ये एक संक्रमण के संकेत हो सकते हैं। थोड़ी सी भी असुविधा के लिए अपने डॉक्टर से मिलें। आप दो सप्ताह में अपने डॉक्टर से मिल सकतेहैं यह सुनिश्चित करने के लिए भी कि आप स्वस्थ्य हैं। खुद को महत्वपूर्ण बनाएं।

गर्भसमापन करवाने के बाद मैं यौन संबंध कब शुरू कर सकती हूं?

आपका शरीर आपकी जानकारी से ज्यादा स्मार्ट है। यह खुद से ठीक होगा। आपको पता चल जाएगा कि आप संभोग शुरू करने के लिए शारीरिक और भावनात्मक रूप से कब सहज हैं। कुछ डॉक्टर एक या दो सप्ताह के लिए परहेज करने की सलाह दे सकते हैं।

मुझे अगली माहवारी कब शुरू होगी?

आप गर्भसमापन के बाद तीन से छह सप्ताह के भीतर माहवारी आने की उम्मीद कर सकती हैं। गर्भसमापन के बाद अक्सर रक्तस्राव होता है, और कभी-कभी, यह रक्तस्राव एक या अधिक सप्ताह तक हो सकता है। यह रक्तस्राव आपके मासिक धर्म के समान नहीं है। गर्भसमापन के बाद आपकी पहली माहवारी आपके द्वारा अनुभव किए जाने की तुलना में अधिक गंभीर ऐंठन के साथ होने की संभावना हो सकती है।

लेखकः अनुराधा खुद को विचारक कहती है। एक कवि होने के अलावा, वह उन मामलों पर लिखती है जो उन्हें कथानक लगतें हैं। वह देहात की सह-संस्थापक हैं, जो एक आला कला ब्रांड है जो भारत की संस्कृति की सांस्कृतिक बेल्ट से कलाकारों के काम को सामने लाता है। वह चर्चा मंच लाउडस्ट के साथ भी जुड़ी हुई है और इसके पैनल चर्चाओंकोसंचालित करती है।